गीत · Reading time: 1 minute

जनवादी गीत

छोड़ दअ
अब सरकार के
गुलामी, ऐ साथी!
दुनिया में
होता भारत के
बदनामी,ऐ साथी!!
रोअ ताटे
आतमा
आज भगतसिंह के!
देखके
क़ौमी इज्ज़त के
नीलामी, ऐ साथी!!
#Geetkar
Shekhar Chandra Mitra
#freedomofspeech
#kabeerreturns
#जनवादीगीत

20 Views
Like
Author
111 Posts · 1.9k Views
Lyricist, Journalist, Social Activist
You may also like:
Loading...